आज के समय में वास्तु का प्रचलन काफी लोकप्रिय हो चुका है, तो वहीं कई लोग ऐसे भी हैं जो वास्तु शास्त्र को लेकर मन में गलत धारणाएं बनाकर बैठे हैं। कई बार बिना जानें और समझें लोग इसका गलत तरह से इस्तेमाल कर लेते हैं तो उसका परिणाम उनको भुगतना पड़ता है और इसी वजह से वे वास्तु के नियमों को गलत समझ बैठते हैं। असल में वास्तुशास्त्र तोड-फ़ोड़ करना नहीं, बल्कि लैंड एनर्जी का पॉजिटिव तरीके से इस्तेमाल करना है।
वास्तु शास्त्र में घर और ऑफिस को लेकर बहुत सारी ऐसी चीज़ों के बारे में बताया गया है, जिसका प्रयोग करके आप अपने घर व ऑफिस को वास्तु दोष मुक्त रख सकते हैं। लेकिन हर उपाय का इस्तेमाल व्यक्ति पूरे नियमों के मुताबिक ही करना चाहिए। आज हम आपको बताएंगे कि कैसे एक सही ढ़ग से पेड़ लगाने पर आपको वास्तु दोष से मुक्ति मिल सकती है। वैसे तो पेड़ लगाने से वातवरण शुद्ध होता है। लेकिन आज आपको सही दिशा के बारे में बताएंगे।

तुलसी : वास्तु शास्त्र के अनुसार तुलसी का पौधा घर या ऑफिस की पूर्व दिशा या पूर्व-उत्तर के कोने में रखना चाहिए।

सफेद मदार : इसे पूर्व-उत्तर के कोने में लगाया जा सकता है। इससे धन लाभ और अचानक फायदा होता है।

केले का पेड़ : केले का पेड़ ईशान कोण में लगााया जाना शुभ होता है। इसके प्रभाव से घर में शांति और सुख बढ़ता है।

आंवला : कहा जाता है आंवला के वृक्ष पर सभी देवताओं का वास है। इसे घर या ऑफिस की उत्तर या पूर्व दिशा में रखने से इच्छाएं पूरी होती हैं।