छत्तीसगढ़

अंतर महाविद्यालयीन युवा महोत्सव मड़ई का शुभारंभ

रायपुर
इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के अंतर्गत संचालित शहीद गुण्डाधुर कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र, कुम्हरावण्ड, जगदलपुर में अंतर महाविद्यालयीन युवा महोत्सव मड़ई 2019 का शुभारंभ मुख्य अतिथि इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एस.के. पाटील ने किया। डॉ. पाटील ने मड़ई में भाग लेने वाले समस्त छात्र-छात्राओं को बधाई दी एवं उनके द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक विभिन्नताओं के प्रदर्शन की सराहना की।

इस अवसर पर बस्तर जिले कलेक्टर डॉ. अय्याज तांबोली, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के संचालक अनुसंधान डॉ. आर.के. बाजपेयी, निदेशक विस्तार डॉ. एस.सी. मुखर्जी, निदेशक प्रक्षेत्र डॉ. जी.के. दास शहीद गुण्डाधुर कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र, कुम्हरावण्ड, जगदलपुर के अधिष्ठाता डॉ. एच. सी. नन्दा उद्यानिकी महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र, जगदलपुर के अधिष्ठाता डॉ. सी.एस. शुक्ला, कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र, साजा के अधिष्ठाता डॉ. डी.एस. ठाकुर, अधिष्ठाता डॉ. बी.पी. कतलम उपस्थित थे। इस अंतर महाविद्यालयीन युवा महोत्व मड़ई 2019 के विजयी एवं चयनित छात्र-छात्राएं फरवरी माह में इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर में विश्वविद्यालय स्तर पर आयोजित होने वाले नेशनल एग्री युनिफेस्ट-2019 में इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर का प्रतिनिधित्व करेंगे।

4 से 6 नवम्बर तक आयोजित किये जाने इस अंतर महाविद्यालयीन युवा महोत्व मड़ई 2019 में 21 महाविद्यालय के 541 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया है। कार्यक्रम की शुरूआत सांस्कृतिक शोभायात्रा से हुई जिसमें महामाया कृषि महाविद्यालय, धमतरी प्रथम स्थान पर रही। आज संध्या तक आयोजित कर्यक्रम लोक-संगीत में 7 महाविद्यालय के 90 छात्र-छात्राओं ने प्रस्तुति दी। सुगम संगीत में 14 महाविद्यालय के 34 छात्र-छात्राओं न प्रस्तुति दी, शास्त्रीय संगीत में 06 महाविद्यालय के 06 प्रतिभागी ने अपनी कला का प्रदर्शन दिया, चित्रकला प्रतियोगिता में 19 महाविद्यालय के 19 छात्र-छात्राओं भाग लिया, सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता में 17 महाविद्यालय के 34 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। तात्कालिक भाषण प्रतियोगिता में 18 महाविद्यालय से 18 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया तथा नाटक प्रतियोगिता में 12 महाविद्यालय के 168 छात्र-छात्राओं ने अपने-अपने अभिनय का प्रदर्शन दिया। इस अवसर पर इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रभारी डॉ. विद्याभूषण कुवंर्शी, डॉ. आदिकांत प्रधान, प्रध्यापकगण, वैज्ञानिकगण एवं बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
Close