छत्तीसगढ़

गौ माता हमारी आस्था व विश्वास का प्रतीक – बृजमोहन

रायपुर
विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि गौ माता सिर्फ धर्म ही नहीं हमारी आस्था और विश्वास का भी प्रतीक है। अपनी पुरातन परंपराओं में देखें तो पता चलता है कि गौ माता किस तरह परिवार का भरण पोषण करती रही है। गौमाता के दूध का उपयोग पूरा परिवार करता है। अतिरिक्त दूध से धन भी प्राप्त होता है। गोमूत्र दवा के रूप में उपयोग में लाया जाता रहा है। गोबर से जैविक खाद बनाकर धरती पर अनाज उगाया जा रहा है।  महावीर गौशाला में आयोजित गोपाष्टमी के अवसर पर  उन्होंने गौमाता को गुड खिलाकर उनकी पूजा-अर्चना की।

श्री अग्रवाल ने कहा कि सारी दुनिया अब जैविक खेती की दिशा में बढ़ रही है। ऐसे में हमारे पास गौपालन एक बढिय़ा विकल्प के रुप में सामने हैं। यह हमारी आर्थिक समृद्धि का मार्ग भी है। हम गोबर- गोमूत्र से बने खाद- दवाइयों से बेहतर जैविक खेती कर, गुणवत्तापूर्ण अनाज का उत्पादन कर सकते हैं। आज हम देख रहे हैं कि रासायनिक खाद-दवाइयों के बेतरतीब उपयोग से अनाज का उत्पादन थोड़ा बढ़ा है, परंतु यह उत्पादित अनाज गुणवत्ता विहीन तथा स्वास्थ्य की दृष्टि से हानिकारक हैं। ऐसे में परिवार, देश और समाज को सुरक्षित स्वास्थ्य और समृद्ध रखने के लिए गौ पालन व जैविक खेती करने की आवश्यकता समय की मांग है। इस अवसर पर पूर्व मंत्री चंद्रशेखर साहू,,सामजसेवी रामजीलाल अग्रवाल,मनमोहन अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

 

Related Articles

Back to top button
Close