बिहार

जानें छठ के प्रसाद की खासियत, इसे खाने से लोग होते हैं निरोग और बीमारियों से होता है बचाव

भागलपुर 
लोकआस्था का महापर्व छठ पूजा उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही संपन्न हो गया। छठ मइया को प्रसाद के रूप में कई तरह की सामग्रियां चढ़ाई जाती हैं। गुड़ के बने ठेकुए से लेकर कई फलों को सूप में भरकर अर्घ्य दिया जाता है। जानकार बताते हैं कि यह सिर्फ प्रसाद नहीं, बल्कि जीवन जीने की कला है।

मौसम में हो रहे बदलाव के बीच इन प्रसादों का नियमित इस्तेमाल करते रहने से कई तरह की बीमारियों से बचाव होता है। ठंड में ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, भूलने की बीमारी, शरीर में पानी की कमी आदि की शिकायत बढ़ जाती है। छठ मइया के प्रसाद को दिनचर्या में शामिल करने पर आप इन बीमारियों से बच सकते हैं।

इस सबंध में फिजिशियन डॉ. हेमशंकर शर्मा ने बताया कि यह सिर्फ प्रसाद भर नहीं है, बल्कि इनमें पाए जाने वाले गुणकारी तत्व हमेशा निरोग रखने में सहायक होता है। इसलिए ठंड की शुरुआत के साथ ही इन प्रसादों का उपयोग करते रहना चाहिए। आयुर्वेद की डॉक्टर कृष्णा सिंह ने बताया कि आयुर्वेद में आंवला, नारियल, गन्ना, अदरक को औषधि माना गया है। यह प्रसाद ठंड भर औषधि के रूप में इस्तेमाल करते रहना चाहिए। वहीं निर्जला व्रत से शरीर के विभिन्न अंगों में ऊर्जा का संचार होता है। यह सालभर व्रतियों को कई रोगों से बचाकर रखता है।

ब्लड प्रेशर से लेकर डायबिटीज को रखता है नियंत्रित
गन्ना न सिर्फ पाचन को ठीक रखता है, बल्कि यह वजह कम करने में भी सहायक होता है। ह्दय रोगियों के लिए फायदेमंद होता है। साथ ही ठंड में त्वचा में निखार लाता है। नारियल में विटामिन और मिनरल्स प्रचूर मात्रा में पाया जाता है। इससे न सिर्फ रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, बल्कि शरीर में पानी की कमी को दूर करता है। इसमें पाए जाने वाले फाइबर पेट के लिए फायदेमंद रहता है। नींबू ठंड में खराब हो रहे गले, कब्ज और मसूड़ों की समस्याओं को दूर करता है। तनाव को दूर रखने के साथ यह त्वचा में चमक पैदा करता है।

हल्दी डायबिटीज की संभावना को कम करता है। खून साफ रखता है। शरीर में होने वाले सूजन को कम करता है। साथ ही रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। मूली पाचन शक्ति को बढ़ाता है। बीपी और डायबिटीज को नियंत्रित रखता है। केला कब्ज दूर करता है। आंतों के सूजन को कम करता है। भूख बढ़ाता है। अदरक घुटनों में होने वाले दर्द को कम करता है। कफ और सर्दी को कम करता है। आंवला ब्लड प्रेशर, आंखों की रोशनी व दस्त में आराम पहुंचाता है। 

Related Articles

Back to top button
Close