मध्य प्रदेश

ज्योतिरादित्य के पैरों पर लेट गए कमलनाथ के मंत्री, बोले- मैं सिंधिया परिवार का सेवक हूं

ग्‍वालियर
मध्य प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Cabinet Ministers Pradyumn Singh Tomar) के द्वारा कांग्रेस के राष्‍ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की चरण वंदना का मामला जोर पकड़ता जा रहा है. भारतीय जनता पार्टी इसे मंत्री पद का अपमान बता रही है और उसने इसे लेकर कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) पर हमला बोल दिया है. हैरानी की बात यह है कि खुद कांग्रेस के दिग्‍गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी इसका विरोध किया है.

कांग्रेस के राष्‍ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि वह इस घटनाक्रम से खुश नहीं है, बल्कि उन्हें दुख हुआ है. इसलिए मैंने कहा है कि आगे से ऐसा न हो. जबकि वहीं प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि मैं सिंधिया परिवार का सेवक हूं. इसलिए चरणवंदना करता हूं. इसमें किसी को क्या आपत्ति है. वैसे आपको बता दें कि प्रद्युम्न सिंह तोमर को सिंधिया का समर्थक माना जाता है. मध्‍य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और पूर्व मंत्री गोपाल भार्गव ने इसे लोकतंत्र का अपमान बता दिया है.

हालांकि तोमर अपने क्षेत्र में सफाई अभियान के लिए चर्चा में रहते हैं और वह पिछले दिनों नाले में उतरकर सफाई करते हुए नजर आए थे. ये अलग बात है कि प्रद्युम्न सिंह तोमर की इसी अदा पर सिंधिया समर्थक दूसरी मंत्री इमरती देवी (महिला एंव बाल विकास मंत्री) ने तंज कसते हुए कहा था कि हम नाले में क्‍यों उतरें, हम तो अधिकारियों से सफाई करवाएंगे.

सोमवार की सुबह कांग्रेस के दिग्‍गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया रेलवे स्टेशन से जैसे ही अपनी गाड़ी में बैठ रहे थे. उस दौरान प्रद्युम्न सिंह तोमर ने सिंधिया के न केवल पैर छुए, बल्कि उनके पैरों पर लेट गए थे. तोमर की इसी हरकत को लेकर सियासी उबाल मच गया है.

Related Articles

Back to top button
Close