खेल

दिल्ली की दमघोंटू हवा से परेशान फुटबॉल कैप्टन सुनील छेत्री, बोले- आंखों में होती है जलन

नई दिल्ली 
भारतीय इंटरनैशनल फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री भी दिल्ली की घातक हवा से परेशान दिखे। दिवाली के बाद और भी खराब हुई देश की राजधानी की हवा को लेकर उन्होंने गहरी चिंता जताई है। छेत्री ने कहा कि बुधवार को राजधानी का प्रदूषण खेल और खिलाड़ियों के लिए गहरी चिंता की बात है। बता दें कि इससे पहले पर्यावरणविदों ने भारत बनाम बांग्लादेश टी-20 इंटरनैशनल मैच को दिल्ली से हटाने का सुझाव दिया था। 

एक इवेंट में हिस्सा के लिए दिल्ली पहुंचे फुटबॉल टीम के कप्तान ने कहा- जब भी हम दिल्ली आते हैं, हमें आंखों में जलन से जूझना पड़ता है। कुछ विदेशी खिलाड़ी मास्क पहनते हैं। अधिकतर लोग दिवाली के दौरान दिल्ली में रुकना पसंद नहीं करते। हमें मिलकर इस इस बारे में सोचना होगा और इस समस्या से को सुलझाने का रास्ता ढूंढना होगा।

बता दें कि हर वर्ष दिवाली के बाद दिल्ली को खराब वायु गुणवत्ता से जूझना पड़ता है। छेत्री ने आगे कहा कि यहां खुद को फिट रखना आसान नहीं है। उन्होंने कहा, ‘दिल्ली में खुद को फिट रखना बेहद मुश्किल है क्योंकि अन्य राज्यों की तुलना में यहां प्रदूषण अधिक है। सीढ़ियां चढ़ना शुरू करो, एक्सरसाइज करो, अधिक मत खाओ, पर्यावरण को दोष मत दो, हमारी समस्या यह है कि हम पर्याप्त ईमानदार नहीं हैं।’ 

दूसरी ओर, फीफा विश्व कप क्वॉलीफायर में बांग्लादेश के खिलाफ घरेलू मैदान पर 1-1 से ड्रॉ खेलने के बाद छेत्री ने वादा किया कि उनकी टीम ओमान और अफगानिस्तान के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेगी। एशियाई चैंपियन और 2022 विश्व कप के मेजबान कतर के खिलाफ गोल रहित ड्रॉ खेलने के बाद भारतीय टीम को कोलकाता में दूसरे दौर के अपने पिछले क्वालीफाइंग मैच में कम रैंकिंग वाली बांग्लादेश की टीम के खिलाफ 1-1 से ड्रॉ के दौरान जूझना पड़ा था। 

Related Articles

Back to top button
Close