देश

दिल्ली में प्रदूषण और ऑड-ईवन पर राजनीतिक घमासान के बाद पानी की रिपोर्ट पर बवाल

नई दिल्ली
दिल्ली में प्रदूषण और ऑड-ईवन के बाद अब पानी को लेकर राजनीतिक घमासान शुरू हो गया है। दिल्ली के पानी को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने बेहद खराब करार देते हुए कहा था कि यह पीने लायक नहीं है। इस पर पलटवार करते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के पानी की गुणवत्ता काफी बेहतर है। केजरीवाल ने पानी पर राजनीति की आलोचना करते हुए मोदी सरकार के मंत्री को ही चुनौती दे डाली। सीएम ने यह भी कहा कि फिलहाल ऑड-ईवन को बढ़ाने की जरूरत नहीं है।

दिल्ली में ऑड-ईवन बढ़ाने की जरूरत नहीं-केजरीवाल
सीएम केजरीवाल ने साथ ही साफ किया कि अब दिल्ली में ऑड-ईवन नहीं बढ़ाया जाएगा। सीएम ने कहा कि आसमान साफ हो गया है इसलिए अब इसकी जरूरत नहीं है। केजरीवाल ने कुछ दिन पहले कहा था कि वह सोमवार को ऑड-ईवन पर अंतिम फैसला करेंगे।

पानी की गुणवत्ता पर पासवान को दी चुनौती
केजरीवाल ने केंद्र सरकार द्वारा जारी रिपोर्ट को दुष्रचार का हथियार करार दिया। उन्होंने कहा, 'पानी को लेकर राजनीति हो रही है। 11 जगह के सैंपल के आधार पर किसी शहर के पानी को खराब नहीं कहा जा सकता। बताया नहीं जा रहा कि कहां से सैंपल लिए गए। जल बोर्ड की रिपोर्ट में 2% से भी कम सैंपल फेल हुए। दिल्ली में 1500 से 2000 तक पानी के सैंपल लेंगे। मैं चुनौती दे रहा हूं रामविलास पासवान जी को, वे भी आएं और जांच करें कि दिल्ली का पानी साफ है या नहीं।' बता दें कि सरकार ने सर्वे के आधार पर साफ पानी को लेकर 21 शहरों की रैंकिंग जारी की है जिसके मुताबिक दिल्ली का पानी सबसे खराब हैजबकि मुंबई में सबसे अच्छा।

केंद्र सरकार की ओर से जारी की गई है रिपोर्ट
केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान ने शनिवार को भारतीय मानक ब्यूरो के अध्ययन के दूसरे चरण की रिपोर्ट जारी की, जिसमें कहा गया है कि दिल्ली के साथ ही कोलकाता और चेन्नै के पानी के नमूने जांच के 11 मानकों में से 10 में असफल रहे हैं।

पानी पर बीजेपी और AAP में घमासान
दिल्ली के कुछ हिस्सों में रविवार को आम आदमी पार्टी सरकार पर हमला बोलते हुए लगाए गए पोस्टर देखे गए, जिसमें आरोप लगाया गया था, 'मुफ्त पानी के नाम पर जहर पिला रहे हैं अरविंद केजरीवाल।' चांदनी चौक के सांसद और केंद्रीय मंत्री हर्ष वर्धन ने ऐसे ही एक पोस्टर को ट्विटर पर साझा करते हुए लिखा है, 'मुफ्त पानी के नाम पर दिल्ली की जनता को जहर पिला रहे हैं अरविंद केजरीवाल। देश के 20 शहरों के पानी पर हुए सर्वेक्षण में दिल्ली का पानी सबसे ज्यादा जहरीला पाया गया। विकास के बड़े-बड़े दावे करने वाली आम आदमी पार्टी सरकार लोगों को साफ पानी तक मुहैया कराने में नाकाम रही है।'

Related Articles

Back to top button
Close