छत्तीसगढ़

पारंपरिक वेशभूषा में सीएम भूपेश बघेल ने की पूजा, कलाकारों के साथ किया राउत नाच

रायपुर
छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की भूपेश बघेल सरकार ने गोवर्धन पूजा (Govardhan puja) का त्योहार गौठान दिवस (Gothan Divas) के रूप में मनाया. सीएम हाउस में इस उत्सव का आयोजन किया गया. गौठान में सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने गोवर्धन पूजा की और प्रदेश की खुशहाली की मनोकामना मांगी. इस दौरान सीएम हाउस को छत्तीसगढ़ी तरीके से सजाया गया. सोमवार सुबह से ही सीएम हाउस में लोगों का तांता लगा रहा. दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गोवर्धन पूजा को गौठान दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया था. साथ ही सभी विधायकों से गौठान में जाकर गोवर्धन पूजा करने को कहा था. सीएम हाउस में भी पारंपरिक तरीके से गौठान बनाया गया जहां मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने पूरे परिवार के साथ पारंपरिक वेशभूषा में गोवंश की पूजा की.

गोवर्धन पूजा को गोठान दिवस के रूप में मनाने का फैसला छत्तीसगढ़ सरकार ने लिया है. उत्सव के दौरान सीएम हाउस में रम्परागत राउत नाचा, सुआ नृत्य, गम्मत जैसे अन्य विधाओं का प्रदर्शन किया गया. सीएम बघेल ने भी कलाकारों का साथ दिया और पारंपिक लोकनृत्य किया. मुख्यमंत्री निवास में पहली बार मनाए गए गोवर्धन तिहार और गौठान दिवस पर राउत नाचा दलों ने आकर्षक धुनों के साथ परंपरागत राउत नाच की प्रस्तुति दी.

बता दें कि सीएम हाउस में बनाए गए पूजा स्थल को ग्रामीण क्षेत्रों के घरों में गाय की सार के रूप में सजाया गया था. सार की छत में छिंद की पत्तियों से छाया की गई थी और सार को गोबर से लीप के सुंदर रंगोली बनाई गई थी. मुख्यमंत्री ने यहां सार में गायों को खिचड़ी खिलाई. इस अवसर पर छत्तीसगढ़ी संस्कृति के अनुरूप राउत और केवट समाज सहित अन्य समाजों के प्रतिनिधियों ने दिवारी और गोवर्धन पूजा की रस्म अदा की.

Related Articles

Back to top button
Close