उत्तर प्रदेश

बुंदेलखंड की इनामी डकैत साधना पटेल गिरफ्तार, देशी राइफल बरामद

  कानपुर 
यूपी-एमपी की सीमा में ताबड़तोड़ वारदातों को अंजाम देकर पाठा के बीहड़ में कूदी डकैत साधना पटेल को एमपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसके कब्जे से पुलिस ने एक राइफल बरामद की है। एमपी पुलिस ने 30 हजार का इनाम घोषित उसके ऊपर घोषित किया था। वह इधर करीब एक वर्ष से दिल्ली आदि शहरों में शरण ले रखी थी। उसके गैंग के ज्यादातर हार्डकोर इनामी सदस्य पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके है।

भरतकूप चौकी क्षेत्र के रामपुर पालदेव गांव के मजरा भडहा का पुरवा की रहने वाली डकैत साधना पटेल का नाम अभी दो वर्ष पहले ही पाठा के बीहड़ों में चर्चाओं में आया था। डकैत बबुली कोल गैंग का सफाया होने के बाद एमपी पुलिस के रड़ार पर साधना पटेल आ गई थी। एमपी पुलिस उसकी तलाश में जुटी रही। पिछले एक वर्ष से साधना ने बीहड़ को छोंड दिल्ली, मऊरानीपुर आदि शहरों में शरण  ले रखी थी। वह किसी तरह पुलिस से बचने का प्रयास करती रही। आखिरकार मुखबिरतंत्र मजबूत होने की वजह से एमपी पुलिस को सफलता हाथ लग गई।

एसएसपी सतना रियाज इकबाल ने बताया कि साधना पटेल के मझगवां थाना क्षेत्र के कडियन मोड के जंग में मौजूद होने की जानकारी मुखबिर से मिली थी। सूचना मिलने के बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम सोलंकी, अनुविभागीय अधिकारी व्हीपी सिंह की अगुवाई में एसओ मझगवां, सिंहपुर, कोटर व महिला थाना प्रभारी की टीमों ने कडियन मोड के जंगल में घेराबंदी की। पुलिस को देखकर साधना पटेल ने भागने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस टीमों ने घेराबंदी करते हुए उसे दबोच लिया। उसके कब्जे से पुलिस ने एक 315 बोर देशी राइफल, चार कारतूस, 21 खोखा व झोले में दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद की गई है। साधना के खिलाफ एमपी में चार मुकदमे दर्ज है। उसके ऊपर 30 हजार का इनाम घोषित था।

Related Articles

Back to top button
Close