मध्य प्रदेश

मंत्री लाखन सिंह यादव के भतीजे के समर्थन में उतरी कांग्रेस, CEO पर की केस दर्ज करने की मांग

श्योपुर
मध्‍य प्रदेश के श्योपुर जिले के सीईओ और कैबिनेट मंत्री लाखन सिंह यादव (Lakhan Singh Yadav) के भतीजे संजय यादव (Sanjay Yadav) के बीच हुआ विवाद लगातार तूल पकड़ता जा रहा है. सीईओ ने यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव संजय यादव के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज कराई है, तो अब कांग्रेसी भी उनके (सीईओ) के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग कर रहे हैं. इसी सिलसिले में कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने चंबल रेंज के आईजी डीपी गुप्ता (IG DP Gupta) से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा है.

पशुपालन मंत्री लाखन सिंह के भतीजे संजय यादव और श्योपुर के जनपद सीईओ की फोन पर कहासुनी हो गई थी. इसको लेकर सीईओ ने पुलिस में मामला दर्ज कराया था, तो वहीं शुक्रवार को कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल चम्बल आईजी डीपी गुप्ता से मिला और जांच की मांग की. कांग्रेस का कहना है कि सीईओ ने पहले अभद्रता सूचक शब्दों इस्तेमाल किया. इस कारण सीईओ पर भी मामला दर्ज होना चाहिए. आईजी चम्बल द्वारा मामले की जांच किए जाने और आरोपी की गिरफ्तारी पर रोक लगाए जाने के बाद आरोपी कांग्रेस नेता संजय सिंह यादव मीडिया के सामने आए हैं. उनका कहना है कि उन पर लगाए गए आरोप निराधार हैं. सीईओ ने उन्हें उकसाया था.

चम्बल रेंज के आईजी डीपी गुप्‍ता का कहना है कि मामले की जांच किसी वरिष्ठ अधिकारी से कराई जाएगी. इस मामले में जो भी तथ्य सामने आएंगे पुलिस उसी के मुताबिक पुलिस कार्रवाई करेंगी. हालांकि उन्‍होंने कहा कि फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं होगी.

Related Articles

Back to top button
Close