छत्तीसगढ़

राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा और राष्ट्रीय साधन सह प्रावीण्य छात्रवृत्ति परीक्षा 03 नवम्बर को

रायपुर
राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा और राष्ट्रीय साधन सह प्रावीण्य छात्रवृत्ति परीक्षा के माध्यम से उत्कृष्ट विद्यार्थियों को अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित करने का अवसर मिलता है। राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा स्टेज-1 और राष्ट्रीय साधन सह प्रावीण्य छात्रवृत्ति परीक्षा नवम्बर माह में आयोजित की जाती है। यह परीक्षा इस वर्ष 3 नवम्बर को प्रदेश के 50 परीक्षा केन्द्र में आयोजित की जाएगी। राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा में कक्षा 10वीं में अध्ययनरत और राष्ट्रीय साधन सह प्रावीण्य छात्रवृत्ति परीक्षा में कक्षा 8वीं में अध्ययनरत विद्यार्थी शामिल होंगे।   

राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा के लिए पाठ्यक्रम कक्षा 10वीं तक और राष्ट्रीय साधन सह प्रावीण्य छात्रवृत्ति परीक्षा के लिए विद्यालयों मंे प्रचलित कक्षा आठवीं तक पाठ्यक्रम निर्धारित है। परीक्षाओं हिन्दी और अंग्रेजी दोनो माध्यम से आयोजित की जाती है। दोनों परीक्षाओं के लिए दो-दो प्रश्न पत्र होंगे। तीन नवम्बर को प्रातः 10 बजे से 12 बजे तक बौद्धिक योग्यता परीक्षण और दोपहर 1 बजे से 3 बजे तक शैक्षणिक योग्यता परीक्षण की परीक्षा होगी। राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा में बौद्धिक योग्यता परीक्षण के 100 और राष्ट्रीय साधन सह प्रावीण्य छात्रवृत्ति परीक्षा में बौद्धिक योग्यता परीक्षण के 90 प्रश्न होंगे। इसी प्रकार द्वितीय प्रश्न पत्र में राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा के लिए गणित विषय के 20, विज्ञान (भौतिक शास्त्र, रसायन शास्त्र, जीव विज्ञान) विषय के 40 और सामाजिक विज्ञान (इतिहास, भूगोल, नागरिक शास्त्र और अर्थशास्त्र) विषय के 40 प्रश्न होंगे। प्रत्येक वस्तुनिष्ठ प्रश्न एक पर एक अंक निर्धारित है। प्रवेश पत्र का प्रारूप वेबसाइट डाउनलोड किया जा सकता है। इन परीक्षाओं के लिए 14 सितम्बर तक आवेदन मंगाए गए थे। जिसमें किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया गया।

राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा प्रथम स्तर में छत्तीसगढ़ राज्य के सभी मान्यता प्राप्त विद्यालयों में कक्षा 10वीं में अध्ययनरत विद्यार्थी शामिल होंगे। इस परीक्षा में शामिल होने आय का कोई बंधन नहीं है। प्रथम स्तर की परीक्षा राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद द्वारा आयोजित की जाती है। द्वितीय स्तर की परीक्षा राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद नई दिल्ली द्वारा आयोजित की जाएगी। द्वितीय स्तर की परीक्षा में चयनित प्रतिभागियों को भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय नई दिल्ली द्वारा कक्षा 11वीं और 12वीं में 1250 रूपए प्रतिमाह, स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर पर 2000 रूपए प्रतिमाह और पी.एच.डी. में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के नॉर्मस के अनुसार छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है।

राष्ट्रीय साधन सह प्रावीण्य छात्रवृत्ति परीक्षा छत्तीसगढ़ शासन द्वारा संचालित शासकीय और अशासकीय अनुदान प्राप्त, नगर निगम, नगर पालिका विद्यालय में अध्ययनरत ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने पिछली कक्षा सातवी की परीक्षा कम से कम 55 प्रतिशत (अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के लिए 5 प्रतिशत छूट) अंक के साथ उत्तीर्ण की हो। जिनके पिता या पालक की वार्षिक कुल आय डेढ़ लाख रूपए से अधिक ना हो, वे शामिल हो सकते हैं। इस परीक्षा में चयनित विद्यार्थियों को शासन द्वारा प्रदत्त किसी एक छात्रवृत्ति का लाभ मिल सकेगा। चयनित विद्यार्थियों को कक्षा बारहवीं तक प्रतिमाह एक हजार रूपए की छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है।

Related Articles

Back to top button
Close