मध्य प्रदेश

लुटेरों की शातिर गैंग के 5 गिरफ्तार

ग्वालियर
मध्य प्रदेश के ग्वालियर (Gwalior) में पिछले डेढ सालों से लूट (Loot) की वारदातों को अंजाम देने वाली अंतरराज्यीय गैंग (Interstate Gang) को दबोचने में क्राइम ब्रांच (Crime Branch) ने कामयाबी हासिल की है. ग्वालियर क्राइम ब्रांच ने 24 घंटे के अंदर गैंग के कुल 5 बदमाशों को पकड़ा है. गैंग ने ग्वालियर में लूट की 4 वारदातों को करना कबूल किया है. सबसे पहले क्राइम ब्रांच ने ग्वालियर के धर्मेंद्र जाट को पकड़ा था, जिससे मिली जानकारी के आघार पर क्राइम ब्रांच ने नवीन शर्मा को शॉर्ट एनकाउंटर में पकड़ा. इसके बाद धर्मेंद्र जाट और नवीन शर्मा के सहयोगी नवाब गुर्जर, आकाश जाट और तपेश पंडित को भी गिरफ्तार कर लिया. बदमाशों के पास से एक राइफल, एक पिस्टल, कार और सवा लाख रुपए की नगदी बरामद की गई है.

आकाश जाट और तपेश पंडित यूपी के मथुरा के रहने वाले हैं और वारदात करने के लिए ग्वालियर आते थे. वारदात के बाद अपना हिस्सा लेकर रवाना हो जाते थे. गिरोह ने अब तक 4 वारदातें करना कबूल किया है. ग्वालियर एसपी नवनीत भसीन का कहना है कि तपेश और आकाश जाट ने यूपी में भी कई वारदातों को अंजाम दिया है, यही वजह है कि यूपी पुलिस से भी संपर्क किया जा रहा है.

गिरोह का मास्टर माइंड नवीन शर्मा मूलत: यूपी के जालौन जिले का रहने वाला है, जो ग्वालियर में एसआई की तैयारी कर रहा था, तो वहीं धर्मेंद्र जाट पुलिस परिवार से ताल्लुक रखता है. फिलहाल पुलिस इन बदमाशों को रिमांड पर लेकर अन्य वारदातों के सिलसिले में पूछताछ कर रही है.

Related Articles

Back to top button
Close