छत्तीसगढ़

हवाईपट्टी,एडवेंचर पार्क सहित केल्हारी और पटना को तहसील बनाने की घोषणा

रायपुर
 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज चिरमिरी के लालबहादुर शास्त्री स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार किसान एवं गरीब वर्ग और मजदूरों की हितैषी सरकार है। इसलिए किसानों का बैंक एवं सिचाई का कर्ज माफ कर 2500 रुपए प्रति क्विंटल में धान खरीद कर किसानों को आर्थिक समृद्धि की ओर ले जाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि किसान बिल्कुल भी चिंता न करें। छत्तीसगढ़ सरकार प्रदेश के सभी किसानों से 2500 रुपए प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदेगी। उन्होंने चिरमिरी में 34 करोड़ 48 लाख रुपए के आवर्धन जल प्रदाय योजना का लोकार्पण सहित कुल 103.81 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया। इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कोरिया जिला में हवाई सेवा के विस्तार हेतु हवाईपट्टी बनाने, सोनहत में महाविद्यालय का नामकरण डॉ रामचंद्र सिंहदेव के नाम पर करने तथा जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने एडवेंचर पार्क बनाने सहित उप-तहसील केल्हारी और पटना को पूर्ण तहसील बनाने की घोषणा भी की।

 कार्यक्रम में मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि हम नही चाहते कि छत्तीसगढ़ के बच्चे एवं महिलाएं कुपोषण का शिकार हो इसलिए छत्तीसगढ़ के बच्चों, महिलाओं, किशोरियों को सुपोषित बनाने प्रदेश में सुपोषण अभियान की शुरुआत की गई है। मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना, मुख्यमंत्री हाट बाजार स्वास्थ्य योजनाओं के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य बनाने और बीमारियों की जांच कर उसका बेहतर उपचार करने की पहल की गई है।

उन्होंने कहा कि नरवा,गरवा,घुरवा, बाड़ी यह छत्तीसगढ़ की चार महत्वपूर्ण चिन्हारी है। इससे किसानों को ही नही गाँव-गाँव की महिलाओं को जोड़ा गया है। गाँव-गाँव में गोठान बनाकर न सिर्फ गाँव के पशुओं को एक निश्चित स्थान पर रखने की व्यवस्था की गई है। पशुओं के लिए चारा, पानी एवम बीमारी से उपचार के लिए पशु चिकित्सक की व्यवस्था भी की गई है। उन्होंने कहा कि ग्राम सुराजी योजना के माध्यम से गाँव के लोगों को स्वावलंबी बनाने की दिशा में बड़ा कदम उठाया गया है।

इसलिये गोठानों में पशुओं के लिये आप लोग पैरादान अवश्य करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि गोठानों में गोबर से बायो उत्पाद, जैविक खाद,वर्मी कंपोस्ट दीया आदि का निर्माण किया जा रहा है। इस दीपावली में दीया सहित अन्य उत्पादों की मांग राज्य सहित अन्य प्रदेशों तक रही। इसे बेचकर स्व सहायता समूह की महिलाएं आत्मनिर्भर की राह में आगे बढ़ रही है। बघेल ने कहा कि हमने बिजली बिल हाफ करके किसानों और आम नागरिकों को लाभ पहुचाया है। गरीब से लेकर सभी परिवारों का राशन कार्ड बनाकर कम कीमत में खाद्यान्न देने की शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि आज विश्व में ग्लोबल वार्मिंग का खतरा है ऐसे में छत्तीसगढ़ में नरवा ,वाटर हार्वेस्टिंग के माध्यम से जल संरक्षण की दिशा में काम करने के साथ पैरा को जलाने से रोकने और इसका अन्य विकल्प तथा पैरा दान को प्रोत्साहित करने की दिशा में कदम उठाया है। जिसकी हर जगह तारीफ भी हो रही है।

 कार्यक्रम में किसानों ने मंच में मुख्यमंत्री का स्वागत महामाला और धान की बालियों से सुसज्जित खुमरी और किसानों की समृद्धि का प्रतीक नागर भेंट किया। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत सहित अन्य अतिथियों ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। कार्यक्रम में कोरिया जिला प्रभारी मंत्री डॉ शिव कुमार डहरिया, खाद्य एवं संस्कृति मंत्री अमरजीत सिंह भगत, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, सरगुजा क्षेत्र विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवम भरतपुर सोनहत विधायक गुलाब कमरो, कोरबा सांसदमती ज्योत्सना महंत, मनेन्द्रगढ़ विधायक डॉ विधायक डॉ विनय कुमार जायसवाल, बैकुंठपुर विधायकमती अम्बिका सिंहदेव, जिला पंचायत अध्यक्षमती कलावती मरकाम, महापौर के डोमरु रेड्डी, कलेक्टर डोमन सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधि,प्रशासनिक अधिकारी एवं आम नागरिक गण उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
Close