उत्तरप्रदेश

पूर्व विधायक दीप नारायण आय से अधिक संपत्ति का मुकदमा दर्ज

 झांसी

झांसी की गरौठा सीट से समाजवादी पार्टी (सपा) के पूर्व विधायक दीप नारायण सिंह यादव पर मुकदमा दर्ज किया गया है. विजिलेंस की टीम ने दीप नारायण यादव पर आय से अधिक संपत्ति का मुकदमा दर्ज कराया है. मामला करीब 3732 करोड़ रुपये का है. हालांकि, दीप नारायण यादव का कहना है कि एफआईआर में रकम गलत लिख गई होगी.

दरअसल, सपा के पूर्व विधायक दीप नारायण सिंह यादव के खिलाफ 5 अप्रैल 2021 को विजिलेंस की जांच शुरू की गई. उनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिली थी. एफआईआर के मुताबिक, इस शिकायत की जांच में दीप नारायण सिंह यादव की करीब 1430 करोड़ की आय मिली, लेकिन खर्च में 3732 करोड़ रुपये का खर्च मिला.

विजिलेंस जांच में सपा के पूर्व विधायक दीप नारायण सिंह यादव की आमदनी कम और खर्च कई गुना ज्यादा सामने आया. दीप नारायण यादव जांच में आय से अधिक संपत्ति और खर्च का ब्यौरा नहीं दे पाए. जांच रिपोर्ट के आधार पर विजिलेंस ने झांसी सेक्टर थाने में दीप नारायण यादव पर मुकदमा दर्ज कराया है.

एफआईआर दर्ज होने पर सपा के पूर्व विधायक दीप नारायण यादव ने कहा कि यह राजनीति षड्यंत्र और दबाव के कारण दर्ज हुआ है, एफआईआर में आंकड़े गलत दर्ज किए गए हैं, पहले 14 करोड़ की आमदनी और 37 करोड़ का खर्च बताया था, जिसे 37 अरब कर दिया है. एफआईआर के आंकड़ों से लग रहा है कि दबाव में लिखवाई गई है.

दीप नारायण यादव ने कहा कि मैं 25 साल से इनकम टैक्स रिटर्न फाइल कर रहा हैं. चार बार से चुनाव लड़ रहा हूं. दो बार विधायक रह चुका हूं. चुनाव के दौरान मैंने शपथ पत्र दिया. विभाग ने एफआईआर लिखी है, लेकिन मुझे भरोसा है कि कोई निष्पक्ष अधिकारी जांच करेगा तो मुझे न्याय मिलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *