भोपाल

बेतवा नदी में डूबती महिला को बचाने गई बोट पलटी, 16 किलोमीटर बहने के बाद यूं बची जान

 विदिशा।
 
मध्य प्रदेश के विदिशा जिले में एक महिला पुल पार करते समय मोटर साइकिल के फिसल जाने से बेतवा नदी में गिरी मिहाल को सुरक्षित रेक्स्यू कर लिया गया है। महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। नदी में गिरने के बाद महिला को बचाने की कोशिश की गई लेकिन महिला समेत बोट पलट गई, इसके बाद महिला फिर से करीब 16 किलोमीटर तक बह गई।

पुलिस सूत्रों के अनुसार सोनम दांगी निवासी ग्राम खजूरिया थाना कुरवाई गुरुवार को अपने भाई के साथ अपने मायके ग्राम पडरिया जा रहीं थी, रात्रि करीब 8 बजे बेतवा नदी बर्रीघाट पुल से मोटर साइकिल फिसलकर बेतवा नदी में गिरी और काफी दूर बह गई। तलाश करने पर मोटरसाइकिल रात 11 बजे बेतवा नदी के गंज स्थित निर्माणाधीन पुल के एक पिलर में लगे हुए लोहे के सरियों के बीच फंसी पायी गयी।

16 किलोमीटर बह गई महिला
सूचना प्राप्त होने पर रात्रि 2 बजे से रेस्क्यू अभियान शुरू किया गया, लेकिन बेतवा नदी में बाढ़ एवं अत्यधिक बहाव के कारण रेस्क्यू बोट वहां तक नहीं पहुंच पा रही थी। इसके बाद रात करीब साढ़े चार बजे पांचवे प्रयास में बोट एवं उसके साथ पांच तैराक वहां तक पहुंच गए। महिला को लाइफ जैकेट पहनाकर जब वहां से रेस्क्यू कर लाने लगे, तब तेज बहाव के कारण होमगार्ड की मोटर बोट पलट गई, जिसमें सभी 5 जवान एवं महिला नदी में बह गये। चूंकि सभी जवान तैराक थे एवं लाइफ जैकेट पहने थे, इसलिए नीचे लगभग एक किलोमीटर नदी के दोनों किनारों पर सुरक्षित वापस आ गये, परन्तु महिला जिसको लाइफ जैकेट पहनाई जा चुकी थी, एक मोटी लकड़ी के सहारे लगभग 16 किलोमीटर नदी में बहते हुए ग्राम राजखेड़ा तक पहुंची।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *