विदेश

बोल्सोनारो से आगे निकले लूला डा सिल्वा, पर ऐसे नहीं बन पाएंगे राष्ट्रपति! फिर होगी भिड़ंत

साओ पाउलो
ब्राजिल के मौजूदा राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो (Jair Bolsonaro) और पूर्व राष्ट्रपति लुइज इनासियो 'लूला' डा सिल्वा के बीच इस महीने के अंत में देश के राष्ट्रपति चुनाव (Brazil's presidential election) के दूसरे निर्णायक दौर में कड़ी टक्कर होगी। सीएनएन रिपोर्ट के मुताबिक, कोई भी उम्मीदवार पहले दौर में जीतने के लिए आवश्यक अंक हासिल नहीं कर पाए। रविवार को हुए मतदान के दौरान बोल्सोनारो और लूला के समर्थकों के बीच हिंसक घटनाएं भी हुईं।
 
कौन बनेगा ब्राजील का राष्ट्रपति?
ब्राजील में रविवार को आम चुनाव के लिए मतदान हुआ। इस चुनाव में दक्षिणपंथी जायर बोल्सोनारो वामपंथी लूला डा सिल्वा के बीच कड़ी टक्कर हुई। हालांकि, इस मतदान के बाद किसी भी उम्मीदवार को 50 फीसदी से ज्यादा वोट नहीं मिले। इस वजह से ब्राजील की कमान किसके हाथ में होगी ये अभी तय नहीं हो पाया है।
 
लूला मौजूदा राष्ट्रपति से निकले आगे
बता दें कि रविवार शाम ब्राजील में 97 प्रतिशत से ज्यादा मतों की गिनती हुई। रिपोर्ट के मुताबिक लूला डि सिल्वा को 48.1 प्रतिशत वोट मिले और मौजूदा राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो को 43.5 फीसदी मत प्राप्त हुए। लूला डा सिल्वा को भले ही ज्यादा वोट मिले हैं लेकिन जीत के लिए ये आंकड़ा काफी नहीं है। इस वजह से दुनिया के चौथे सबसे बड़े लोकतंत्र की कमान किसके हाथ में होगी ये अभी तय नहीं हो सका। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, अब लूला और बोल्सोनारो 30 अक्टूबर को एक बार फिर आमने-सामने होंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *