जबलपुरमध्य प्रदेश

रीवा के मेडिकल कॉलेज में सीनियर छात्रों के खिलाफ रैगिंग की शिकायत दर्ज

रीवा
 रीवा के श्यामशाह मेडिकल कॉलेज के फर्स्ट ईयर के छात्र के साथ ब्वॉयज हॉस्टल में रैगिंग का मामला सामने आया है। छात्र ने सीनियर छात्रों पर रैगिंग के बहाने उसे प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए एंटी रैगिंग हेल्पलाइन में नामजद शिकायत दर्ज कराई है। यह मामला सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है। मामले में कॉलेज के डीन को जांच के निर्देश दिए गए हैं। जांच के लिए एक टीम गठित की गई है।

पीटीएस में संचालित मेडिकल कॉलेज के ब्वॉयज हॉस्टल में 2021 बैच के एमबीबीएस छात्र की लंबे समय से रैगिंग किए जाने की शिकायत दिल्ली में हुई है। आरोप है कि 2020 और 2018 बैच के सीनियर छात्र मिलकर जूनियर छात्र को प्रताड़ित कर रहे थे। सीनियर छात्र जूनियर की ना सिर्फ सुबह शाम पिटाई करते थे, बल्कि उससे अपने सारे काम भी कराते थे।

दो महीने तक लगातार रैगिंग से परेशान होकर छात्र ने सीनियरों के खिलाफ बगावत कर दी। उसने इसकी शिकायत चुपचाप एंटी रैगिंग हेल्पलाइन दिल्ली में दर्ज करा दी। मामला दिल्ली पहुंचने के बाद श्यामशाह मेडिकल कॉलेज प्रबंधन की लापरवाही भी खुलकर सामने आ गई। यहां सीनियर छात्र जूनियर पर अत्याचार करते रहे लेकिन उनकी किसी ने नहीं सुनी। यही वजह है कि उन्हें हेल्पलाइन का सहारा लेना पड़ा।

छात्र की ऑनलाइन शिकायत के बाद कॉलेज के डीन को मेल के जरिए दिल्ली से एक पत्र आया है जिसमें जांच के निर्देश दिए गए हैं। डीन ने निर्देश मिलते ही सीनियर डाक्टरों की जांच टीम बना दी है जो इस पूरे मामले की जांच करेगी। जांच टीम द्वारा छात्रों के बयान दर्ज किये जाएंगे और जो भी रिपोर्ट होगी वह डीन को सौंपी जाएगी। रिपोर्ट के आधार पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। इसके अलावा जांच रिपोर्ट के साथ कार्यवाही की जानकारी दिल्ली भी भेजनी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *