भोपालमध्य प्रदेश

7 दिन में इंतजाम नहीं किए तो होगा आंदोलन

भोपाल

आदमपुर खंती दो दिन से आग से धधक रही है, लेकिन जिनकी लापरवाही से कचरे में आग लग रही है। उनके खिलाफ न पहले एक्शन हुआ न अब कोई कार्रवाई। ज्ञात हो 20 दिन पहले आदमपुर खंती में आग लगी थी। उसे काबू करने में 7 दिन से अधिक समय लग गया था। इसके बावजूद आग पूरी तरह नहीं बुझाई गई।

धुंआ कम होने के बाद मामला ठंडे बस्ते में चला गया, लेकिन आग अंदर ही अंदर धधकती रही। सूत्र बताते हैं कि ग्रीन रिसोर्स कंपनी को फायदा पहुंचने के लिए खंती में जानबूझकर आग लगाई जा रही है। खंती के सारे कामों का जिम्मा चीफ सिटी इंजीनियर आरके सक्सेना और इंजीनियर सौरव सूद पर है। यह कंपनी के बिल आदि पास करते हैं। कंपनी कितने कचरे का प्रोसेस कर रही है। इसकी जानकारी इनके पास होती है, लेकिन यह किसी से जानकारी सांझा नहीं करते। इंजीनियर आरके सक्सेना को फोन किया तो उनका नंबर बंद था।

निगमायुक्त कई बार दे चुके हैंहिदायत
निगमायुक्त कई बार कचरे के निष्पादन के काम में बरती जा रही है लापरवाही को लेकर इंजीनियर और कंपनी के अफसरों को हिदायत दे चुके हैं, लेकिन पहले से पड़े कचरे का निष्पादन नहीं हो पा रहा। कंपनी को यहां पहले से पड़े करीब 3 लाख टन के कचरे का निष्पादन करना है। इसके अलावा यहां रोजाना 800 से 900 टन कचरा रोज आता है।

कांग्रेस के ग्रामीण नेता करेंगे चक्काजाम
कचरे में बार-बार जानबूझकर लगाई जा रही आग के कारण आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक परेशान हैं। इसके मद्देनजर कांग्रेस ग्रामीण नेताओं ने सात दिन में व्यवस्था करने को कहा है । यदि सात दिन मेें व्यवस्था नहीं की गई तो कांग्रेस ग्रमीण नेता चक्काजाम करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *