छत्तीसगढ़

पत्थर से सिर कुचलकर युवती की हत्या, घर से 3 दिन पहले निकली थी; 3 संदिग्ध हिरासत में

बलरामपुर
बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में 3 दिन से लापता युवती की लहूलुहान लाश जंगल में मिली है। ग्राम पंचायत अमरपुर के आमादारा पाठ के जंगल में युवती की लाश मिलने की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। शव का सिर और गर्दन बुरी तरह से कुचला हुआ है। पुलिस ने इस मामले में 3 संदिग्धों को भी हिरासत में लिया है, जिनसे पूछताछ की जा रही है। मामला कुसमी थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, कुसमी थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत भुलसीकला के तेतरटोली की रहने वाली 20 वर्षीया सरस्वती कुमारी अपनी मां और पिता रामेश्वर गोंड़ के साथ अंबिकापुर में रहती थी। कुछ दिन पहले युवती भुलसीकला के तेतर टोली गांव में अपने मामा संजय गोंड़ के यहां आई थी। 2 जून को वह घर से तैयार होकर निकली थी, लेकिन फिर वापस नहीं लौटी। जब काफी देर हो गई, तो मामा ने उसे कॉल किया, मगर सरस्वती का मोबाइल लगातार स्विच ऑफ बता रहा था।

परेशान मामा संजय गोंड़ ने युवती के माता-पिता को इस बात की जानकारी दी। वहीं वे अन्य लोगों के साथ आसपास के गांव में भी भांजी की तलाश में जुटे हुए थे। इस बीच सोमवार को युवती की खून से लथपथ लाश ग्राम पंचायत अमरपुर के आमादारा पाठ के जंगल के पगडंडीनुमा रास्ते में पड़ी मिली। इसकी सूचना मिलने पर कुसमी थाना प्रभारी सुनील केरकेट्टा, एसआई कोमल तिग्गा सहित अन्य पुलिसकर्मी डॉग स्क्वॉड के साथ मौके पर पहुंचे।

युवती के सिर पर पत्थर पटककर उसकी हत्या की गई है। गर्दन को भी पत्थर से कुचला गया है। पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लेकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया। परिजनों का बयान दर्ज किया गया है। पुलिस को प्रेम प्रसंग में हत्या की आशंका है।

पुलिस ने 3 संदिग्ध युवकों को हिरासत में लिया है, जिनसे पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने आमादारा के 2 और भुलसीकला के एक युवक को संदेह के आधार पर हिरासत में लिया है। पुलिस ने जल्द ही मामले का खुलासा करने की बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *