भोपालमध्य प्रदेश

स्वच्छता की वर्किंग जानने असम के कैबिनेट मंत्रियों व अफसरों की टीम आएगी एमपी

भोपाल

मध्यप्रदेश में स्वच्छता और कचरा प्रबंधन के क्षेत्र में हुए कामों का अध्ययन करने के लिए असम के वरिष्ठ अधिकारी और कैबिनेट के सदस्यों का एक 25 सदस्यीय प्रतिनिधि मण्डल भोपाल और इंदौर भेजा आएगा। यहां आने के बाद वे यह जानेंगे कि एमपी में कैसे इसको लेकर वर्किंग की जा रही है। इसके बाद असम सरकार एमपी के फार्मूले पर अमल करेगी। 

असम के मुख्यमंत्री ने वहां के अफसरों के दौरे की जानकारी एमपी के नगरीय विकास मंत्री और प्रमुख सचिव व अन्य अधिकारियों के साथ हुई वीसी मीटिंग के जरिये चर्चा में यह बातें कही हैं। इस बैठक का उद्देश्य मध्यप्रदेश द्वारा शहरी स्वच्छता और लीगेसी वेस्ट के निपटान के लिए किए जा रहे प्रयासों से असम की शहरी विकास टीम को अवगत कराना था। इसमें प्रमुख सचिव और आयुक्त नगरीय प्रशासन ने योजनाओं का प्रस्तुतिकरण किया। मध्यप्रदेश की उपलब्धियों, रणनीति, भविष्य की योजनाओं के बारे में विस्तार से चर्चा की गयी। इंदौर और भोपालमें लीगेसी वेस्ट के निपटान के लिए विशेष प्रयासों के साथ ही प्रदेश में लगातार किए जा रहे व्यवहार परिवर्तन और संचार के प्रयासों से भी अवगत कराया गया।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश ने अपनी शहरी स्वच्छता में कई उपलब्धियां लेकर देश का ध्यान अपनी ओर आकृष्ट किया है। स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 में मध्यप्रदेश को देश के नंबर वन राज्य का सम्मान प्राप्त हुआ है। इसके अलावा देश के नंबर वन स्वच्छ शहर इंदौर और भोपाल ने भी दुनियाभर में अपनी छाप छोड़ी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *