खेल

यहां समझें: किस्तान के बराबर स्कोर बनाने के बावजूद कैसे जीता श्रीलंका?

नई दिल्ली
पाकिस्तान वर्सेस श्रीलंका एशिया कप 2023 के वर्चुअल सेमीफाइनल में दासुन शनाका की टीम ने 2 विकेट से जीत दर्ज करते हुए फाइनल में जगह बनाई। इस रोमांचक मुकाबले में दोनों टीमों ने बराबर-बराबर 252 रन बनाए, उसके बावजूद बिना सुपर ओवर के श्रीलंका ने जीत दर्ज की। कई क्रिकेट फैंस यह सोचकर हैरान है कि स्कोर बराबर होने के बावजूद कैसे श्रीलंका जीता। अगर आप भी इसी सवाल की खोज में घूम रहे हैं तो आप एकदम सही जगह आए हैं। आज हम आपको बताएंगे कि पाकिस्तान वर्सेस श्रीलंका मैच टाई होने के बावजूद कैसे श्रीलंका को विजेता घोषित किया गया।

पाकिस्तान वर्सेस श्रीलंका मैच बारिश से प्रभावित रहा। बारिश की खलल के चलते यह मैच लगभग 2 घंटे की देरी से शुरू हुआ जिस वजह से 5-5 ओवर की कटौती हुई और मैच को 45-45 ओवर का कराने का फैसला लिया गया। पाकिस्तान की टीम ने टॉस जीतकर इस मैच में पहले बैटिंग चुनी थी। जब पाकिस्तान का स्कोर 27.4 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 130 रन था तो बारिश ने फिर से खेल को रोका। जब कुछ देर बाद मैच फिर शुरू हुआ तो मैच अधिकारियों ने 3-3 ओवर और कम करने का फैसला लिया और मुकाबले को 42-42 ओवर का किया। पाकिस्तान ने निर्धारित 42 ओवर में मोहम्मद रिजवान के अर्धशतक की मदद से 252 रन बोर्ड पर लगाए।

जब भी मैच बारिश से प्रभावित होता है और ओवर में कटौती होती है तो चेज करने वाली टीम को डकवर्थ लुईस नियम यानी DLS के आधार पर नया टारगेट दिया जाता है। ऐसे में श्रीलंका को 42 ओवर में 253 का नहीं बल्कि 252 रनों का ही टारगेट मिला था। इस वजह से ही पाकिस्तान के बराबर स्कोर बनाने के बावजूद श्रीलंका मैच जीता।

कुसाल मेंडिस के अर्धशतक के बाद चरिथ असलंका की प्रतिकूल प्रतिस्थितियों में धैर्यपूर्ण पारी से श्रीलंका ने एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट के वर्षा से प्रभावित सुपर चार चरण के बेहद रोमांचक मुकाबले में पाकिस्तान को डकवर्थ-लुईस पद्धति के तहत दो विकेट से हराकर फाइनल में जगह बनाई जहां उसका सामना रविवार को भारत से होगा। पाकिस्तान के 252 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंका ने मेंडिस की 87 गेंद में आठ चौकों और एक छक्के से 91 रन की पारी और समरविक्रम (48) के साथ उनकी तीसरे विकेट की 100 रन की साझेदारी से अंतिम गेंद पर आठ विकेट पर 252 रन बनाकर जीत दर्ज की। असलंका ने 47 गेंद में तीन चौकों और एक छक्के से नाबाद 49 रन बनाकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया।

इसी के साथ बाबर आजम की पाकिस्तानी टीम का एशिया कप में सफर यहीं समाप्त हुआ। पाकिस्तान ने सुपर-4 स्टेज का आगाज तो बांग्लादेश पर शानदार जीत के साथ किया था, मगर भारत और श्रीलंका के खिलाफ मिली लगातार दो हार ने उन्हें टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *