व्यापार

डंज़ो ने लागत कम करने के लिए गूगल को छोड़कर ज़ोहो कार्यस्थल में ली कर्मचारियों के लिए जगह

डंज़ो ने लागत कम करने के लिए गूगल को छोड़कर ज़ोहो कार्यस्थल में ली कर्मचारियों के लिए जगह

नई दिल्ली
संकटग्रस्त वाणिज्य स्टार्टअप डंज़ो ने लागत को कम से कम एक तिहाई घटाने के लिए अपने सभी कर्मचारियों को गूगल से ज़ोहो के कार्यस्थाल में स्थानांतरित कर दिया है।

उद्यम योजना के तहत गूगल कार्यस्थल की कीमत हर महीने प्रति उपयोगकर्ता करीब 1,600 रुपये है, जबकि ज़ोहो इसी तरह की पेशकश के लिए प्रति उपयोगकर्ता 489 रुपये लेता है।

डंज़ो के एक प्रवक्ता ने इस मामले पर कहा, ‘‘यह नियमित व्यावसायिक निर्णय है। पहले कुछ दिनों में कुछ दिक्कतें थीं, लेकिन अब उन सभी को दूर कर लिया गया है।’’

कंपनी के ऑडिटर डेलॉयट ने शेयर बाजार को हाल ही में दी जानकारी में वित्त वर्ष 2023 में कंपनी का शुद्ध घाटा बढ़कर 1,802 करोड़ रुपये होने के बाद उस पर संदेह व्यक्त किया था। यह घाटा पिछले वर्ष की तुलना में 288 प्रतिशत अधिक है।

टीसीएस ने अगली पीढ़ी के समाशोधन, निपटान मंच के लिए ऑस्ट्रेलिया के एएसएक्स के साथ किया समझौता

नई दिल्ली
 टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने ऑस्ट्रेलियाई बाजार को अगली पीढ़ी का समाशोधन व निपटान मंच प्रदान करने के लिए ऑस्ट्रेलियाई प्रतिभूति विनिमय एएसएक्स के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

टीसीएस की ओर से जारी बयान के अनुसार, एएसएक्स बदलाव को सक्षम करने के लिए बाजार के बुनियादी ढांचे के लिए टीसीएस बीएएनसीएस लागू करेगा। टीसीएस उत्पाद का इस्तेमाल नकद इक्विटी समाशोधन व निपटान के लिए एएसएक्स के मौजूदा मंच को बदलने के लिए किया जाएगा।

बीएफएसआई उत्पादों और मंचों के लिए टीसीएस के अध्यक्ष विवेकानंद रामगोपाल ने कहा, ‘‘ हमारा इस मिशन-महत्वपूर्ण व्यवसाय के लिए चयन, हमारे प्रदर्शन, हमारे उत्पादों में निरंतर निवेश और प्रौद्योगिकी-आधारित दुनिया में बाजार के बुनियादी ढांचा संस्थानों के भविष्य को लेकर हमारे साझा दृष्टिकोण की पुष्टि है।’’

एलटीटीएस ने ‘मेडिकल इमेजिंग’ बेहतर करने के लिए एनवीआईडीआईए के साथ की साझेदारी

नई दिल्ली
इंजीनियरिंग सेवा कंपनी लार्सन एंड टुब्रो टेक्नोलॉजी सर्विसेज (एलटीटीएस) ने जनरल (कृत्रिम मेधा) एआई का इस्तेमाल करके ‘मेडिकल इमेजिंग’ को बेहतर बनाने के लिए अमेरिकी सॉफ्टवेयर कंपनी एनवीआईडीआईए के साथ साझेदारी की घोषणा की है।

कंपनी की ओर से  जारी बयान के अनुसार, साझेदारी का मकसद ‘मेडिकल इमेजिंग’ की गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए चिकित्सकीय उपकरणों के लिए सॉफ्टवेयर-आधारित आर्किटेक्चर विकसित करना है।

एलटीटीएस के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) एवं प्रबंध निदेशक अमित चड्ढा ने कहा कि यह सहयोग उन्हें ‘मेडिकल इमेजिंग’ को हर संभव तरीके से बेहतर करने का मौका देगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *