छत्तीसगढ़राज्य

छत्तीसगढ़ में बीजेपी सरकार का बड़ा ऐलान, होलसेल कारिडोर को लेकर प्रदेश के व्यापारियों में जबरदस्त उत्साह

रायपुर

 साल 2023 जाने में बस एक दिन ही शेष है और नववर्ष 2024 का आगाज होने ही वाला है। प्रदेश के व्यापार उद्योग के लिए भी साल 2023 काफी लाभप्रद रहा और व्यापारियों को सौगात के रूप में सात राज्यों को जोड़ने वाले दक्षिण मध्य एशिया के सबसे बड़े होलसेल कारिडोर का शिलान्यास हुआ।

बताया जा रहा है कि होलसेल कारिडोर नया रायपुर में सेक्टर 35 में करीब 1083 एकड़ में बनेगा और यहां 8,500 दुकानें बनेगी। यहां 90 तरह का कारोबार होगा, इसके साथ ही यहां से एयरपोर्ट कार्गो, रेलवे स्टेशन, डूमरतराई थोक बाजार भी जुड़ेंगी। होलसेल कारिडोर सात राज्यों को जोड़ने वाला होगा, इससे प्रदेश के कारोबार में बढ़ोतरी के साथ ही लाखों लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

व्यापारियों में जबरदस्त उत्साह

होलसेल कारिडोर को लेकर प्रदेश के व्यापारियों में जबरदस्त उत्साह भी बना हुआ है और छत्तीसगढ़ चेंबर आफ कामर्स के पास व्यापारियों के आवेदन भी आ गए हैं। इसके साथ ही व्यापारियों को नई सौगात के रूप में यह भी मिला कि नगर निगम की संपत्तियों को लीज होल्ड से फ्री होल्ड कर दिया गया।

31 मार्च तक मंडी शुल्क से राहत

छत्तीसगढ़ चेंबर आफ कामर्स के कार्यकारी अध्यक्ष विक्रम सिंहदेव ने बताया कि मंडी शुल्क व कृषक कल्याण शुल्क में छूट को लेकर चेंबर ने प्रदेश शासन को ज्ञापन सौंपा था।

इसके बाद पोहा मिल व दाल मिल पर मार्च 2024 तक मंडी शुल्क से राहत दी गई है। इसके साथ ही बूढ़ातालाब स्थित धरना स्थल को भी नया रायपुर स्थानांतरित किया गया।प्रदेश का होगा चौतरफा विकासछत्तीसगढ़ चेंबर आफ कामर्स के अध्यक्ष व कैट के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी ने बताया कि नया रायपुर में बनने वाला होलसेल कारिडोर भविष्य का बाजार होगा और इससे प्रदेश के व्यापार व्यावसाय में जबरदस्त प्रगति होगी। सात राज्यों से जुड़ने के कारण होलसेल कारिडोर से व्यापार की रप्तार तो बढ़ेगी ही,इसके साथ ही लाखों लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *