खेल

आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट में ‘अनकैप्ड’ अयूब को उतारेगा पाकिस्तान

शुभमन गिल टेस्ट में आक्रामकता पर अंकुश लगाएं : गावस्कर

सेंचुरियन
अपने समय के दिग्गज टेस्ट बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने कहा टी-20 और एकदिवसीय क्रिकेट की तुलना में टेस्ट में अंतर होता है और इस प्रारूप में बेहतर करने के लिए शुभमन गिल को अपनी बल्लेबाजी की आक्रामकता पर अंकुश लगाना चाहिए।

गावस्कर ने कहा, “मुझे लगता है कि गिल टेस्ट क्रिकेट में कुछ ज्यादा ही आक्रामक तरीके से खेल रहे हैं।” उन्होंने कहा कि जब आप टी-20 और एकदिवसीय क्रिकेट की तुलना में टेस्ट क्रिकेट खेलते हैं तो इसमें थोड़ा अंतर होता है। अंतर गेंद में होता है। उन्होंने कहा, “लाल गेंद हवा में और पिच के बाहर भी सफेद गेंद की तुलना में थोड़ी अधिक घूमती है। यह थोड़ी अधिक उछाल भी लेती है। उन्हें इसे ध्यान में रखना चाहिए।” गावस्कर ने कहा, “शुभमन गिल ने अपने करियर की शुरुआत बहुत अच्छी की और हमने उनके शॉट्स की सराहना की। हम केवल उम्मीद कर सकते हैं कि वह अपनी फॉर्म में वापस आ जाएं।” उन्होंने कहा, “उम्मीद है कि वह कड़ी मेहनत करेगा और भविष्य में अच्छा प्रदर्शन करेगा।”

उल्लेखनीय है कि गिल को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन में पहले टेस्ट में लगातार असफलताओं का सामना करना पड़ा। जब वह दिन की शुरुआत में पहली पारी में नांद्रे बर्गर की एक वाइड डिलीवरी पर शॉट लगाने का प्रयास कर रहे तो उनका कैच पकड़ लिया गया था और जब उन्होंने दूसरी पारी में लाइन के पार खेलने की प्रयास किया तो मार्को जानसन ने उन्हें आउट कर दिया। तीसरे नंबर पर उनका स्कोर दो और 26 रहा था। इस वर्ष गिल ने सफेद गेंद के प्रारूप में 63.36 के औसत और 105.45 के स्ट्राइक रेट से एकदिवसीय मुकाबलों में 1584 रन, वहीं टी-20 में 44.51 की औसत से 154.30 के स्ट्राइक रेट से 1202 रन बनाकर शानदार प्रदर्शन किया था।

आस्ट्रेलिया के खिलाफ क्षेत्ररक्षण काफी खराब था: अमोल मजूमदार

मुंबई
 भारतीय महिला टीम के मुख्य कोच अमोल मजूमदार ने स्वीकार किया कि आस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में क्षेत्ररक्षण काफी लचर रहा और इस विभाग में सुधार के लिए काम जारी है।

भारतीय महिला टीम को इससे आस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार नौवीं श्रृंखला में हार का सामना करना पड़ा। भारत ने  यहां क्षेत्ररक्षण में कई गलतियां की और सात कैच छोड़े। इसके बाद बल्लेबाजों के जूझने से टीम को तीन रन से हारकर श्रृंखला गंवानी पड़ी। आस्ट्रेलिया ने भारत में कभी भी वनडे श्रृंखला नहीं गंवायी है।

मजूमदार ने यहां वानखेड़े स्टेडियम में मीडिया से कहा, ''हम क्षेत्ररक्षण मजबूत करने की प्रक्रिया में हैं। इसमें कोई संदेह नहीं है कि हमारा क्षेत्ररक्षण अच्छा नहीं था।'' उन्होंने कहा, ''हमने करीब छह कैच छोड़े। खेल में यह हमेशा होता है, यहां तक कि प्रतिद्वंद्वी टीम ने भी कुछ कैच छोड़े। लेकिन हम अब भी इस पर काम कर रहे हैं। अगर हमें इस श्रृंखला के बाद समय मिलता है तो हम क्षेत्ररक्षण और फिटनेस सुधारने में काफी समय देंगे।''

आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट में 'अनकैप्ड' अयूब को उतारेगा पाकिस्तान

कराची
 पाकिस्तान के तीन जनवरी से सिडनी में आस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू होने वाले तीसरे और अंतिम टेस्ट में 21 साल के 'अनकैप्ड' (कोई अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला) सलामी बल्लेबाज सईम अयूब को खिलाने की उम्मीद है।

अनुभवी सलामी बल्लेबाज इमाम उल हक की धीमी बल्लेबाजी की आलोचना हो रही है जिससे टीम प्रबंधन ने आखिरकार अयूब को मौका देने का फैसला किया है। इस युवा बायें हाथ के बल्लेबाज ने इस साल आठ टी20 मैच खेले हैं जबकि उन्होंने प्रथम श्रेणी के केवल 14 मैच ही खेले हैं। श्रृंखला के पहले दो टेस्ट चार दिन के अंतर खत्म हो गये थे तो टीम प्रबंधन अयूब के साथ जोखिम लेने के लिए तैयार है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *