देश

सिम कार्ड से लेकर UPI तक के बदलेंगे नियम, आपकी जेब पर कितना पड़ेगा असर? जानिए यहां

नई दिल्ली
आज से नया साल शुरू हो गया है। इसके साथ ही कई नियमों में बदलाव हो रहा है जिनका सीधा संबंध आपकी जेब से है। जैसे आज से मोटर गाड़ियां महंगी होने जा रही है। अब आप UPI पेमेंट के जरिए शेयर खरीद सकते हैं। कई स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स में भी आज से ब्याज दरों में बदलाव होने जा रहा है। यहां हम आपको डिटेल से उन नियमों की जानकारी दे रहे हैं जो आज से बदल रहे हैं…

UPI से खरीद सकेंगे शेयर

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) एक जनवरी 2024 को सेकेंडरी मार्केट यानी शेयर बाजार के लिए UPI लॉन्च करेगा। इसके बाद इन्वेस्टर्स UPI के जरिए पेमेंट करके शेयर्स खरीद सकेंगे। अभी IPO की बिडिंग में UPI के जरिए पेमेंट की जाती है। सेकेंडरी मार्केट में UPI से खरीद-फरोख्‍त शुरू करने वाला भारत दुनिया का पहला देश होगा।

​गाड़ी खरीदना महंगा

अगर आप मोटर गाड़ी खरीदने की योजना बना रहे हैं तो नए साल में आपको ज्यादा पैसे चुकाने पड़ेंगे। देश की कई ऑटो कंपनियों ने एक जनवरी से गाड़ियों की कीमत में बढ़ोतरी करने की घोषणा की है। इनमें मारुति सुजुकी, टाटा मोटर्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, ऑडी इंडिया और मर्सिडीज बेंज इंडिया शामिल हैं।

​पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम

सरकार हर तिमाही के लिए छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दर में बदलाव करती है। एक जनवरी से शुरू हो रही तिमाही के लिए भी ब्याज दरों में बदलाव किया है। सुकन्या समृद्धि योजना पर ब्याज दर को 0.20 फीसदी बढ़ाकर 8.2% किया गया है। इसी तरह तीन साल के सावधि जमा पर ब्याज दर में 0.10 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है।

​LPG गैस सिलेंडर

नए साल के पहले दिन गैस सिलेंडर सस्ता हो गया है। ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने 19 किलो वाले कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमत में एक महीने में दूसरी बार कटौती की है। हालांकि घरों में यूज होने वाले 14.2 किलो वाले सिलेंडर की कीमत में एक बार फिर कोई बदलाव नहीं किया गया है।

​सिमकार्ड खरीदने का नियम

मोबाइल सिमकार्ड से जुड़ा नियम भी आज से बदलने जा रहा है। नए नियम के मुताबिक एक जनवरी से सिमकार्ड खरीदने के लिए सिर्फ डिजिटल केवाईसी ही मान्य होगी। अब तक सिमकार्ड खरीदने के लिए ऑफलाइन फॉर्म भरा जाता था जिसे नए साल में खत्म कर दिया गया है।

बैंक लॉकर एग्रीमेंट डेडलाइन​

रिजर्व बैंक ने संशोधित लॉकर एग्रीमेंट्स को चरणबद्ध तरीके से लागू करने के लिए 31 दिसंबर, 2023 की डेडलाइन तय की थी। आरबीआई ने कहा था कि जो ग्राहक डेडलाइन से पहले अपने एग्रीमेंट को रिन्यू नहीं कराते हैं, बैंक उन्हें लॉकर एक्सेस करने से रोक सकते हैं और उन पर सप्लीमेंट्री चार्जेज ठोक सकते हैं।

​इनएक्टिव हो जाएगा UPI ID

नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन ऑफ इंडिया ने गूगल पे, फोन पे या पेटीएम को ऐसे यूपीआई आईडी को इनएक्टिव करने को कहा है जो एक साल से अधिक समय से एक्टिव नहीं हैं। इसके लिए 31 दिसंबर, 2023 की डेडलाइन रखी गई थी। थर्ड पार्टी एप प्रोवाइडर और पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर को ऐसे निष्क्रिय खातों को 31 दिसंबर तक बंद करने को कहा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *