भोपालमध्य प्रदेश

कूनो नेशनल पार्क में घूमने आने वाले पर्यटकों को खुला टिकटोली गेट, नए साल में खुश खबरी मिली, ले सकेंगे चीता सफारी का आनंद

श्योपुर
कूनो नेशनल पार्क में घूमने आने वाले पर्यटकों को नए साल में खुश खबरी मिली है। कूनो प्रबंधन ने उनके लिए टिकटोली गेट खोल दिया है। सुबह जब पर्यटकों ने इस गेट से प्रवेश किया तो कूनो का नजारा देखकर रोमाचिंत हो उठे और बोले-वाह क्या नजारा है। कूनो डीएफओ थिरूकुरल आर, पालपुर पश्चिम रेंज के रेंजर यशबंदु ने पर्यटकों को माला पहनाकर प्रवेश कराया। पहले दिन 60 से 70 पर्यटक कूनो में चीता सफारी का आनंद लेने पहुंचे।

चीते आने के बाद किया था बंद
बता दें कि, 17 सितंबर 2022 को कूनो नेशनल पार्क में चीते आने के बाद पार्क के मुख्य टिकटोली गेट को पर्यटकों के लिए बंद कर दिया गया था। लेकिन कूनों की सैर करने आने वाले पर्यटकों के लिए अहेरा गेट खुला हुआ था। ऐसे में पर्यटकों को शिवपुरी जिले की भटनावर पुलिस चौकी के सामने होकर अहेरा गेट प्रवेश कर कूनों जाना पड़ता था, लेकिन नए साल में पर्यटकों के लिए टिकटोली गेट खोल दिया गया है। इस गेट से प्रवेश करने वाले पर्यटकों को चीतों का दीदार भी हो सकेंगे। क्यों कि, खुले जंगल में छोड़े गए दो चीते वीरा और पवन टिकटोली गेट के पास ही घूम रहे हैं।

यह रहेगी टाइमिंग
कूनो नेशनल पार्क के डीएफओ थिरुकुलार आर ने बताया कि रविवार से टिकटोली गेट पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। पर्यटक टिकटोली गेट से प्रवेश कर सकेंगे। पर्यटकों को इस गेट पर प्रवेश पत्र सुबह सात बजे से नौ बजे के बीच प्राप्त किए जा सकेंगे। सुबह के प्रवेश पत्र 11.30 बजे तक वैध होंगे। शाम के भ्रमण के लिए प्रवेश पत्र शाम तीन बजे से चार बजे के बीच प्राप्त किए जा सकेंगे जो कि शाम छह तक वैध होंगे। प्रत्येक बुधवार को शाम को अवकाश रहेगा।

ग्रामीणों को मिलेगा रोजगार
कूनो नेशनल पार्क का टिकटोली गेट खुलने की आस-पास बसे गांवों के लिए अच्छी बात है। क्योंकि टिकटोली गेट से जाने वाले पर्यटक सेसईपुरा, मोरावन, टिकटोली होते जाएंगे। जिससे यहां गांव के लोगों को रोजगार मिलेगा। यहां चाय-नाश्ते की दुकानों से लेकर होटल और अन्य कारोबार विकसित होगा।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *