देश

भजनलाल सरकार में अपराधियों के ख़िलाफ़ ताबड़तोड़ कार्रवाई, अपराधियों में भय व्याप्त

भरतपुर
 गृह राज्य मंत्री जवाहर सिंह बेढम ने राज्य सरकार की मंशानुरूप अपराध मुक्त राजस्थान के ध्येय को साकार करने के उद्वेश्य से  भरतपुर में अटलबंध थाने का औचक निरीक्षण कर थाने की व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुये संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। राज्य में घटा अपराध का ग्राफ— गृह राज्य मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशानुरूप अपराध के खिलाफ सरकार की जीरो टॉलरेन्स की नीति है। अपराध पर अंकुश लगाने के लिये अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करते हुये सलाखों के पीछे धकेलने के लिये राज्य सरकार कृतसंकल्पित है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भजनलाल की सरकार बनने के बाद राजस्थान में अपराध का ग्राफ तेजी से घटा है, गैंगवार की वारदातों पर रोक लगी है। साथ ही साईबर अपराध के खिलाफ अभियान चलाकर सख्त कार्यवाही की जा रही है, गैंगस्टर राज्य छोडकर प्रदेश के बाहर भाग रहे हैं

साथ ही संगठित अपराधों व हत्या जैसे संगीन मामलों में लगातार कमी आई है। उन्होंने कहा कि अपराध के खिलाफ पुलिस प्रशासन में सुधार करते हुये आधुनिक सुविधाओं से परिपूर्ण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सिस्टम की खामियों को दूर करते हुये सरकार व पुलिस संयुक्त प्रयास के साथ अपराध के खिलाफ मुश्तैदी से खडी है। निरीक्षण के दौरान गृह राज्य मंत्री ने पुलिस के उच्च अधिकारियों को निर्देशित किया कि पुलिस सिस्टम में आवश्यक सुधार करते हुये अपराधियों के खिलाफ सघन अभियान चलायें। उन्होंने कहा कि विभाग में उत्कृष्ठ कार्य करने वाले पुलिसकर्मियों के कार्यों को सराहा जायेगा वहीं लापरवाही बरतने वाले कार्मिकों के खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। उन्होंने शहरी क्षेत्र के होटलों एवं गैस्ट हाउसों पर कडी निगरानी रखने के निर्देश प्रदान किये।

निरीक्षण कर दिये निर्देश—
गृह राज्य मंत्री ने निरीक्षण के दौरान कार्मिकों की उपस्थिति पंजीका की जॉच कर गश्त में लगे कार्मिकों की उपस्थिति की जानकारी लेते हुये मुस्तैदी से ड्यूटी करने के निर्देश प्रदान किये। गश्त कार्य में लापरवाही पाये जाने पर गृह राज्य मंत्री ने नाराजगी व्यक्त करते हुये उच्च अधिकारियों को व्यवस्था में सुधार लाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कार्मिकों की ड्यूटी के समय को कार्मिक के नाम के साथ ही रजिस्टर में दर्ज करें। उन्होंने केस रजिस्टर की जॉच कर उच्च अधिकारियों एवं थाना इंजार्च से लम्बित प्रकरणों के बारे में जानकारी लेते हुये थाने में 2007, 2009 एवं 2011 तक के लम्बित प्रकरणों पर नाराजगी व्यक्त करते हुये इनका समयबद्व निस्तारण करने के निर्देश दिये।

बेढम ने इस दौरान अनुसंधान कक्ष, मालखाना, बंदी कक्ष एवं महिला डेस्क का निरीक्षण कर आवश्यक सुधार के निर्देश प्रदान किये एवं थाने में महिला डेस्क में मूलभूत सुविधाओं सहित बैठने की उचित व्यवस्था व महिला पुलिस कर्मी की ड्यूटी मुस्तैदी से सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने थाने में आने वाले फरियादियों को हरसंभव सहायता प्रदान करते हुये उनके बैठने व पेयजल आदि की उचित व्यवस्था करते हुये उनके साथ उचित व्यवहार करने के निर्देश दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *