उत्तर प्रदेश

आगरा: ग्रीन गैस लिमिटेड की लापरवाही, नालंदा टावर में दूसरे दिन दोपहर तक भी नहीं हुई पीएनजी सप्लाई

आगरा
ग्रीन गैस लिमिटेड की लापरवाही के कारण नालंदा टावर में शुक्रवार दोपहर तक पाइप्ड नैचुरल गैस(पीएनजी) की आपूर्ति बाधित रही। गुरुवार सुबह लाइन क्षतिग्रस्त होने के कारण भावना एस्टेट, कावेरी कौस्तुभ, नालंदा टावर सहित आस-पास के आधा दर्जन से अधिक अपार्टमेंट और क्षेत्रीय घरों की आपूर्ति बाधित हो गई थी। रात 10 बजे तक नई लाइन डालकर आपूर्ति सुचारु की गई, लेकिन नालंदा टावर में आपूर्ति दूसरे दिन दोपहर 12 बजे तक भी सुचारु नहीं हो सकी। टीम द्वारा टावर में सप्लाई का ज्वाइंट नहीं खोला गया, जिससे 60 परिवारों में सुबह की चाय, नाश्ता नहीं बन सका। भावना एस्टेट के निकट नगर निगम का सीवर लाइन डालने का कार्य चल रहा है। गुरुवार सुबह 11 बजे खोदाई के दौरान ग्रीन गैस की पीएनजी लाइन क्षतिग्रस्त हो गई। क्षेत्रीय लोगों की सूचना पर ग्रीन गैस की टीम पहुंची और लीकेज को रोकने के लिए वाल्व बंद किया गया। इसके बाद मरम्मत कार्य शुरू हुआ, जिसमें दो से तीन दिन का समय लगना था। इसके बाद नई लाइन डालने का निर्णय लिया गया। ग्रीन गैस लिमिटेड के मीडिया समन्वयक विनय भारद्वाज ने दावा किया कि पूरे क्षेत्र की आपूर्ति रात 10 बजे सुचारु कर दी गई। अन्य क्षेत्र की आपूर्ति तो सुचारु हो गई, लेकिन नालंदा टावर की आपूर्ति बाधित रही। इस कारण नालंदा टावर के 60 परिवारों के यहां शुक्रवार सुबह की चाय, नाश्ता नहीं बन सका, जबकि दोपहर के खाने के लिए भी लोग वैकल्पिक संसाधन तलाशते नजर आए। टावर निवासी सरोज कटारा ने बताया कि गुरुवार को पूरे दिन मुश्किल हुई, जबकि शुक्रवार को भी सुबह की चाय, नाश्ते के लिए वैकल्पिक संसाधन तलाशने पड़े। वहीं दोपहर 12 बजे तक आपूर्ति बाधित रहने के कारण दोपहर के खाने की तैयारी भी नहीं हो पा रही। ग्रीन गैस लिमिटेड के मीडिया समन्वयक ने बताया कि टीम ने नई लाइन डाल दी थी, लेकिन नालंदा टावर की आपूर्ति सुचारु करने वाला ज्वाइंट खोलने से रह गया। इस कारण टावर के लोगों को मुश्किल हुई। टीम काम कर रही है, जल्द ही आपूर्ति सुचारु कर दी जाएगी।

Related Articles

Back to top button
Close