राजनीति

BJP और कांग्रेस में उठापटक जारी, दुष्यंत चौटाला बोले- अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी

नई दिल्ली 
हरियाणा में हुए विधानसभा चुनावों के लिए मतगणना गुरुवार सुबह आठ बजे से जारी है। राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा को अपनी सत्ता बरकरार रहने की उम्मीद है और एग्जिट पोल से उसकी इन उम्मीदों को और बल मिला है। शुरुआती रुझानों के अनुसार, रुझानों में BJP और विपक्ष के बीच आंख मिचौली का खेल लगातार जारी है। इस बीच रोहतक के एक मतगणना केंद्र पर पहुंचे हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि राज्य में फिर पूर्ण बहुमत के साथ कांग्रेस की सरकार बनेगी। बता दें कि मतगणना शुरू होने से ठीक पहले कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि जेजेपी (JJP) से हमें कोई परहेज नहीं है।

वहीं, रुझानों के बाद जेजेपी अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हरियाणा में सत्ता की चाबी हमारे पास रहेगी। कोई भी पार्टी 40 का आंकड़ा पार नहीं करेगी। राज्य की 11 सीटों पर आगे चल रही जेजेपी के कार्यकर्ताओं ने जींद में जश्न मनाना शुरू कर दिया है।

इसके साथ ही हरियाणा में त्रिशंकु विधानसभा की तस्वीर बनने के आसार के बीच प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने दावा किया कि राज्य की जनता ने भाजपा को नकार दिया है और सत्तारूढ़ पार्टी की नैतिक हार हुई है। हरियाणा में कांग्रेस ही अगली सरकार बनाएगी।

शुरूआती रुझानों में करनाल सीट से जहां मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर आगे चल रहे हैं। वहीं गढ़ी सांपला किलोई सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा बढ़त बनाए हुए हैं। इसके साथ ही कैथल सीट पर रणदीप सुरजेवाला, अंबाला कैंट सीट अनिल विज, महेंद्रगढ़ सीट से रामबिलास शर्मा और उचाना कला सीट से जेजेपी के दुष्यंत चौटाला आगे चल रहे हैं। 

हरियाणा में त्रिशंकु विधानसभा के आसार, JJP बन सकती है किंग मेकर
बता दें कि राज्य के 90 विधानसभा क्षेत्रों में से प्रत्येक में एक मतगणना केंद्र स्थापित किया गया है और गुड़गांव के बादशाहपुर खंड़ में एक अतिरिक्त केन्द्र बनाया गया है जिनमें बड़ी संख्या में मतदान केन्द्र थे।

हरियाणा के संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी इंदर जीत ने बुधवार को एजेंसी को बताया, 'मतगणना सुबह आठ बजे से शुरू होगी।' उन्होंने बताया कि सोमवार को हुए मतदान के लिए इस्तेमाल की गई इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) और वीवीपैट मशीनों को 59 विभिन्न स्थानों पर बनाये गये 90 'स्ट्रांगरूम में रखा गया है।
 
हरियाणा में सोमवार को 68 प्रतिशत से अधिक मतदान दर्ज किया गया था जो 2014 में हुए विधानसभा चुनाव की तुलना में कुछ कम था। उस वर्ष 76.54 प्रतिशत मतदान हुआ था। वर्ष 2014 में भाजपा ने 47 सीटों पर जीत दर्ज की थी और कांग्रेस को 15 सीटें मिली थी। इंडियन नेशनल लोकदल ने 19 सीटों पर जीत हासिल की थी और बहुजन समाज पार्टी तथा शिरोमणि अकाली दल को एक-एक सीट मिली थी। पांच निर्दलीय थे। इस बार 105 महिलाओं समेत 1,169 उम्मीदवार मैदान में है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close