छत्तीसगढ़

CAA के विरुद्ध गंभीर षड़यंत्र का अंदेशा , NIA में कांग्रेस नेता की शिकायत

 रायपुर
 छत्तीसगढ़ के एक कांग्रेसी नेता के खिलाफ NIA में भाजपा ने शिकायत की है. शिकायत में भाजपा नेताओं का आरोप है कि सिटिजन एमेंडमेंट एक्ट (CAA) के खिलाफ जामिया के छात्रों के प्रदर्शन में युवा कांग्रेस नेता विपिन मिश्रा भी शामिल था और उसने खुद को जामिया का छात्र बताया था. भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने CAA के विरुद्ध प्रदर्शन के नाम पर गंभीर षड़यंत्र का अंदेशा व्यक्त किया है और NIA से इस मामले में जांच की मांग की है.

प्रतिनिधिमंडल में शामिल भाजपा नेता नरेश चंद्र गुप्ता ने कहा कि कैब के बहाने कुछ राजनीतिक दलों के द्वारा देश को अस्थिर करने का प्रयास किया जा रहा है. क्योंकि ये सत्ता से हट चुके है सत्ता के लालच में देश को अस्थिर करने का काम कर रहे है. राष्ट्रीय गतिविधियों के खिलाफ काम करते हैं. राष्ट्र विरोध गतिविधियों के खिलाफ जो काम करने का प्रयास करते है उन पर कार्रवाई होनी चाहिए. जो व्यक्ति छात्र नहीं है और छात्र बनने का प्रयास कर रहा है. हमने कोई इनपुट नहीं दिया ये इनपुट उनके फेसबुक और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर है. ये राजनीतिक दलों का षड्यंत्र है जिसका पर्दाफाश होना चाहिए.

वहीं भाजपा प्रवक्ता गौरी शंकर श्रीवास ने कहा कि CAA बिल के विरोध में प्रदेश युवा कांग्रेस प्रवक्ता महासचिव विपिन मिश्रा को पूरे देश ने देखा है कि जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में स्वयं को वहां का छात्र बताते है दिल्ली का रहवासी बता रहे है. हमारी मांग है भारत बचाव रैली के दौरान 7000 कांग्रेसी दिल्ली में गए थे, ऐसे कितने लोगों को नकली छात्र बनाकर ट्रांसफर किया गया है और जामिया में जिस तरीके का दहशत का माहौल है, इसके लिए कहीं न कहीं कांग्रेस पार्टी दोषी है. वो व्यक्ति वहां क्या कर रहा और ऐसे कितने लोग वहां है उनका आंकड़ा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को स्पष्ट करना होगा. इसके पीछे क्या मंशा है इसकी सूक्ष्म तरीके से जांच होनी चाहिए. दिल्ली में जाकर अराजकता का माहौल बनाया जा रहा है. इस बात को लेकर हम एनआईए दफ्तर पहुंचे है और हमारे प्रतिनिधिमंडल ने इस बात की मांग की है कि सारे तथ्यों की सूक्ष्मता से जांच हो. जो भी इसमें शामिल हैं उनके खिलाफ कार्रवाई हो.

Related Articles

Back to top button
Close