देश

ओम बिरला पीड़िता से मिलने पहुंचे, कहा- एक बार अस्पताल का दौरा करें स्वास्थ्य मंत्री

कोटा
राजस्थान के कोटा संभाग के सबसे बड़े एमबीएस अस्पताल के स्टॉक यूनिट में महिला की आंख की पलकों को चूहों द्वारा उतरने पर अब सियासत तेज हो गई है। अलग-अलग राजनीतिक पार्टियों द्वारा अस्पताल पहुंचकर महिला मरीज से मुलाकात की जा रही है। इस बीच लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला भी बुधवार को एमबीएस अस्पताल पहुंचे और महिला मरीज और उसके परिजनों से मुलाकात की। साथ ही बिरला ने मौके पर मौजूद चिकित्सकों को महिला के बेहतर उपचार देने के निर्देश दिए। इस दौरान बिरला ने स्टॉक यूनिट में भर्ती अन्य मरीजों की भी कुशल क्षेम पूछी।

अस्पताल में गंदगी को लेकर जताई नाराजगी
स्टॉक यूनिट में महिला मरीज से मिलने के बाद बिरला ने अस्पताल का दौरा भी किया। इस दौरान अस्पताल में हो रही गंदगी पर नाराजगी जताते हुए अधीक्षक डॉ. नवीन सक्सेना को फटकार भी लगाई। बिरला ने कहा कि यह संभाग का सबसे बड़ा अस्पताल है, इस अस्पताल में बेहतर सुविधाएं प्रदान करना हम सबका दायित्व है। यहां से कोई मरीज निराश होकर नहीं जाए, इस पर सभी चिकित्सकों और कर्मचारियों को मिलकर काम करना है।  इसके साथ ही जब बिरला अस्पताल के आउटडोर पर पहुंचे तो कई मरीजों ने लोकसभा अध्यक्ष को घेर कर अपनी समस्या बताई। बिरला ने आउटडोर चिकित्सकों पर नाराजगी जताई और कहा कि अगर आउटडोर कम हैं, तो उनकी संख्या बढ़ाओ लेकिन मरीजों को बेहतर उपचार दिलाओ।

'चिकित्सा मंत्री करें एक बार एमबीएस अस्पताल का दौरा'
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने अपने एमबीएस अस्पताल के दौरे के दौरान कई जगहों पर गंदगी देखी। वहां मरीजों की समस्याओं को सुनने के बाद बिरला ने कहा कि इस अस्पताल की ऐसी स्थिति पहले कभी नहीं देखी। बिरला ने कहा कि चिकित्सा मंत्री जब भी कोटा आएं एक बार एमबीएस अस्पताल का दौरा जरूर करें, ताकि उन्हें हकीकत के बारे में जानकारी लग सके और अस्पताल को बेहतर किया जा सके।

महिला की आंख पर हुआ है घाव
अस्पताल में भर्ती रूपमती जीबीएस सिंड्रोम से पीड़ित हैं और करीब 45 दिन से ही अस्पताल में भर्ती है। महिला के पति देवेन्द्र का कहना है कि उसको लकवे का अटैक आने पर अस्पताल में भर्ती करवाया था। चूहों द्वारा आंख की पलकों को कुतरे जाने के बाद आंख पर गहरा घाव हुआ है। वहीं चिकित्सकों ने भी माना है कि महिला की आंख पर चूहों ने काटा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close