मध्य प्रदेश

USA की तर्ज पर अब MP में मिलेगी महिलाओं को सुरक्षा, तैयार हो रहा है यह खास ‘सुरक्षा कवच’

भोपाल
सूबे में महिलाओं की सुरक्षा (Security of women) को पुख्‍ता करने के लिए मध्‍य प्रदेश पुलिस (Madhya Pradesh Police) एक खास सुरक्षा कवच (Special Security Shield) तैयार कर रही है. मध्‍य प्रदेश पुलिस द्वारा तैयार किए जा रहे इस सुरक्षा कवच को ‘अलर्ट’ (Alert) नाम दिया गया है. अलर्ट एक खास तरह का सॉफ्टवेयर (Software) होगा. जिसे महिलाएं अपने मोबाइल (Mobile) पर इंस्‍टाल (Install) कर सकेंगी. इस सॉफ्टवेयर की बटन टच करते ही पुलिस को यह संदेश पहुंच जाएगा कि कहीं आप मुसीबत में फंसी हुई हैं. आपके मोबाइल से मिली लाइव लोकेशन की मदद से पुलिस कुछ ही मिनटों पर आपकी मदद के लिए पहुंच जाएगी.

सूबे के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा के अनुसार, मध्‍य प्रदेश सरकार महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बेहद गंभीर है. सूबे में रहने वाली महिलाओं की सुरक्षा को बेहतर बनाने के लिए मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने एक बड़ा फैसला लिया है. इस फैसल के तहत सरकार का आईटी डिपार्टमेंट वन टच अलर्ट सिस्‍टम पर काम कर रहा है. वन टच अलर्ट सिस्‍टम को जल्‍द ही मोबाइल एप के तौर पर सरकार लांच करने जा रही है. जिसके बाद, प्रदेश में रहने वाली कोई भी महिला अपने मोबाइल को अपना सुरक्षा कवच बना सकेगी.

उन्‍होंने बताया कि अमेरिका की तर्ज पर सरकार का आईटी डिपार्टमेंट अलर्ट नाम से एक मोबाइल एप तैयार कर रहा है. इस अलर्ट एप को किसी भी मोबाइल में आसानी से इंस्‍टाल किया जा सकेगा. एप में मौजूद वन टच बटन को टच करने से कुछ मिनटों के भीतर पुलिस मौके पर पहुंच जाएगी. उन्‍होंने बताया कि यह अलर्ट सुविधा महिलाओं के लिए सुरक्षा कवच का काम करेगी. जनसंपर्क अधिकारी पीसी शर्मा का दावा है कि यह हिंदुस्तान की पहली सुविधा होगी, जिससे महिलाओं को बेहतर सुरक्षा प्रदान की जा सकेगी.

अलर्ट एप को मोबाइल में डाउनलोड करने के बाद आपको रजिस्‍ट्रेशन कराना होगा. रजिस्‍ट्रेशन के लिए आपको अपनी कुछ सामान्‍य जानकारियों को एप में दर्ज करना होगा. रजिस्‍ट्रेशन होते ही आपके मोबाइल स्‍क्रीन पर अलर्ट बटन नजर आने लगेगा. इतना ही नहीं, आपका मोबाइल जीपीएस तकनीक की मदद से पुलिस कंट्रोल रूम और डायल 100 से जुड़ जाएगा. किसी आपातकालीन परिस्‍थति में जैसे ही आप अलर्ट बटन को प्रेस करेंगी, तत्‍काल आपका संदेश और लोकेशन पुलिस कंट्रोल रूप पहुंच जाएगी.

पुलिस कंट्रोल रूप आपकी लोकेशन के इर्द गिर्द मौजूद पुलिस कर्मियों के साझा करते हुए जल्‍द से जल्‍द मौके पर पहुंचने के निर्देश देगी. जिसके बाद, आपके मोबाइल की जीपीएस लोकेशन की मदद से पुलिस बिना समय गवाए आप तक मदद के लिए पहुंच जाएगी. अलर्ट सुविधा में हिंदी, अंग्रेजी, के साथ दूसरी भाषाओं में संदेश लिखने, ऑडियो और वीडियो की सुविधा भी उपलब्ध रहेगी. इतना ही नहीं, इंटरनेट नहीं होने की स्थिति में भी वन टच अलर्ट सुविधा काम करेगी.

मंत्री पीसी शर्मा ने बताया कि अलर्ट सुविधा का काम अंतिम चरण में है. आईटी विभाग नवंबर तक इसे तैयार कर लेगा. मुख्‍यमंत्री कमलनाथ इस सिस्टम खुद मॉनीटरिंग कर रहे हैं. मध्‍य प्रदेश सरकार नवंबर में इस सुविधा को महिलाओं के लिए लांच कर देगी.

Related Articles

Back to top button
Close